Friday, June 4, 2021
spot_img

CA क्या हैं और CA कैसे बने ? (What is CA and how to Become CA)

एक accountant विभिन्न प्रकार के कार्य को करता हैं जैसे टेक्स्ट, accountancy, Financial Guide, credit Analysis, ऑडिटिंग आदी । बेहतर नौकरी वह हैं जो कि recession proof हैं मतलब कि कितने भी कमी क्यो न हो जाए परंतु ऐसे व्यक्तियों की मांग हर दम होती हैं । इसी Category में ये Course भी शामिल हैं जिसकी value व्यक्ति काफ़ी बेहतर तरीके से समझते हैं और जिसका मांग बाजार में कभी खत्म नहीं हो सकती हैं । इस Post पर कार्य करने वाले व्यक्ति को बहुत सम्मान भी प्राप्त होता हैं ।

यह एक ऐसा Course हैं जो India में भी काफ़ी प्रसिद्ध होता हैं । परंतु इसके बारे में वही व्यक्ति अधिक दिलचस्पी रखते है जिन्हें account से संबंधित subject को पढ़ने और उसके तहत आने वाले Work को करने में मजा आता हैं । काफ़ी student ऐसे हैं जो 10th पढ़ने के बाद Science नहीं लेते हैं । ज्यादातर students 10th पास करने के बाद commerce लेकर 10+2 करते हैं और फ़िर बाद में students को आगे चल के CA के बारे में मालूम होता हैं । उसके बाद उनके मन में CA बनने का रूची जाग जाता हैं ।

Charted accountant का काम क्या होता हैं ?

यदि आप भी CA बनना चाहते हैं और इसके बारे में खूब सारी जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं, तो ये Post आपके लिए Important होने वाला हैं । क्योंकि आज हम आपको अपने लेख के माध्यम से इस आर्टिकल के द्वारा CA का काम, सैलरी इत्यादि के बारे में सारी जानकारी प्रदान करने वाले हैं तो आप इस Post को Last तक ज़रूर पढ़े  । CA का काम कुछ इस प्रकार होता हैं :-

1. Charted account का काम Financial System और बजट का व्यवस्था करना हैं ।

2. CA का काम Financial Audit करना ( कोई भी Financial organization का बगैर किसी भर्क के Audit करना मतलब कि जांच करना हैं )

3. Financial राय प्रदान करना हैं ।

4. Client के साथ Contact करना होता हैं और Financial डिटेल्स और राय प्रदान करना हैं ।

5. CA को Company के System का review करना होता हैं और रीक्स का एनालिसिस भी करना पड़ता हैं ।

6 . Financial detail और System की जांच करने के लिए CA को test करना होता हैं ।

7. CA का काम Tax planning पर customer को राय देना होता हैं ( मौजूदा कानून के अंदर उन्हें अपनी Tax को कम करने के लिए सक्षम करना होगा ) ।

8. CA का काम accountancy recorders को Maintain करना होता हैं और छोटे व्यापार के लिए account Management information तैयार करना होता हैं ।

9. Financial transaction पर client को राय प्रदान करना हैं ।

10. व्यापार में improvement लाने के लिए client को सलाह देना और Bankruptcy से निपटने के Ways बताना ।

कैसे बने CA ?

CA Charted accountancy देश भर में सबसे Reputed designation में से एक हैं । एक Qualified CA बनने के लिए बहुत अधिक Focus करने की आवश्यकता होती हैं । इस आर्टिकल में हम आपको अब यह बताने वाले हैं कि इस के Syllabus की विशेष बात कौन सा हैं । इसके अलावा आप यह भी जानकारी हासिल कर पाएंगे कि Charted accounted मतलब कि CA कैसे बने ।

India में Charted accountancy Course और Professional को the institute of Charted accountants of India नई delhi के माध्यम से Regulated किया जाता हैं । अब नीचे Step by Step follow कर आप जान सकते हैं कि CA कैसे बने ।

charted account का course दो आवश्यक Level में होता हैं !

1. काॅमन प्रोफ़िसिएन्सी टेस्ट (सीपीटी) – इसका मतलब सामान्य प्रवीणता परीक्षा होता हैं।

2. इन्टिग्रेट् प्रोफेशनल काॅम्पिटन्स कोर्स (आईपीसीसी)/आईपीसीई) – इसका अर्थ एकीकृत व्यावसायिक क्षमता पाठयक्रम ।

Charted account कितने वर्ष का Course हैं !

Charted account का Course आप 12th और graduation दोनों करने के बाद भी कर सकते हैं। इसके Syllabus के लिए काफ़ी अवधि होती हैं । Charted accountant commerce stream में सबसे प्रसिद्ध course में से एक हैं परंतु student लंबी सीमा को मद्दे नजर रखते हुए इस प्रकार का course करने से डरते हैं ।

यही विचार Students में यह wrong perception हुई हैं कि दूसरे Professional Course के मुकाबले में इसमें काफी लंबी अवधि लग जाती हैं । जबकि विशेष ध्यान देने वाली बात तो यह हैं कि इसमें number of अटेम्प्ट्स के साथ ही इसकी सीमा बढ़ती जाती हैं ।

Charted account का वेतन कितनी होती हैं ?

हमारे देश India में एक Charted accountant का सैलरी उसके skill, capability और experience पर डिपेन्ड करता हैं । यदि देखा जाए तो India में Charted accountant का औसत सैलरी 6-7 लाख रुपए से 30 लाख रुपए तक होता हैं । यदि international पैमाने पर देखा जाए तो India के बाहर एक accountant के आधार पर कार्य करने वाले व्यक्ति को उसकी worth के मुताबिक पैकेज के रूप में 75 लाख रुपए के आसपास प्रदान किया जाता हैं ।

गुज़रे आंकड़ों की चर्चा करे तो इसके मुताबिक India में Charted accountant का औसत सैलरी कम से कम 7.36 लाख रुपए हैं I ICAI के माध्यम से आयोजित campus placement में rank holders और singal अटेम्प्ट में पास करने वाले students को ज्यादा प्रयत्न में बात करने वाले students के मुकाबले में अधिक प्राथमिकता प्राप्त हैं।

वैसे बहुत से Candidate ऐसे भी हैं जो Distinguished firms में 2 से 3 वर्ष के job के बाद अपना अभ्यास शुरुआत करते हैं । यदि ऐसा Candidate worth में बेहतर होते हैं तो फिर उन्हें बहुत ही high growth प्राप्त होता हैं।

Charted accountant की कितनी Fees होती है ?

Charted accountant Foundation

1. फ़ाउंडेशन पंजीकरण फ़ीस :- 9800 रुपए

2. एग्जाम फ़ीस :- 1500 रुपए

Charted accountancy Intermediate

1. Intermediate पंजीकरण फ़ीस :- 18000 रुपए

2. ICITSS फ़ीस :- 6500 रुपए

3. एग्जाम फ़ीस :- 2700 रुपए 

CA फ़ाइनल

1. फ़ाइनल कोर्स फ़ीस :- 22000

2. ICITSS फ़ीस :- 6500

3. एग्जाम फ़ीस :- 2700 हम आशा करते हैं कि इस आर्टिकल के द्वारा आपको Charted accountant के बारे में सारी डिटेल्स बेहतर तरीके से समझ में आ गया होगा और इस जानकारी को प्राप्त करने के बाद आप चाहे तो अपने friend और पढ़ने वाले junior students को इस Course के लिए गाइड भी कर सकते हैं ।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

22,018FansLike
2,792FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles

error: Content is protected !!